आजकल

झूठी खबर फैलाई तो पकड़ लेगी पुलिस! केंद्र सरकार की चेतावनी पर WhatsApp ने किया बड़ा परिवर्तन!! आप भी जान लीजिए

एडिटोरियल डेस्क

WhatsApp कंपनी सरकार के द्वारा धमकी दिए जाने से डर गई है। केंद्र सरकार ने पिछले दिनों WhatsApp पर झूठी खबर फैलाई जाने की वजह से देशभर में हो रही हत्याओं पर चेतावनी दी थी। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने साफ कहा था कि इस तरह की खबरों को रोकने के लिए उपाय करें।

अखबारों में विज्ञापन

सरकार की धमकी से डरे WhatsApp कंपनी ने अखबार में विज्ञापन निकालकर लोगों को सतर्क किया है। विज्ञापन में WhatsApp कंपनी ने मैसेज फॉरवर्ड करने से पहले सावधान रहने की बात कही है। साथ ही बताया है कि इस सप्ताह एक नई खूबी लेकर आ रही है जिसमें यह पता लग सकेगा कि कौन सा मैसेज किसने फॉरवर्ड किया है। अब इस WhatsApp के नए फीचर के आ जाने से यदि कोई व्यक्ति झूठी खबर को पहली बार फैलाता है तो पुलिस उस तक आसानी से पहुंच जाएगी क्योंकि यह पता लग जाएगा कि पहली बार इस झूठी खबर को किस ने WhatsApp पर डाला है।

सचाई की जांच करें

WhatsApp कंपनी कहती है कि अगर फॉरवर्ड किए गए मैसेज आपको प्राप्त होता है तो इस बात की जांच करें कि क्या उस संदेश में मौजूद तथ्य सही है या नहीं।

जो आपको अच्छा नहीं लगे उसे किसी को नहीं भेजें

जो आपको अच्छा नहीं लगे वह मैसेज दूसरों को ना भेजें। इस तरह का विज्ञापन भी WhatsApp कंपनी ने निकाला है। साथ ही साथ WhatsApp कंपनी ने विज्ञापन के माध्यम से लोगों को जागरुक करते हुए कहा कि कोई भी

मैसेज पर आंख मूंदकर विश्वास नहीं करें और पहले विश्वसनीय न्यूज़ पोर्टल या ऐप्स पर जाकर इसकी सत्यता का जांच कर लें। इस तरह से WhatsApp कंपनी ने अखबारों में 10 पॉइंट का विज्ञापन निकालते हुए झूठी खबर फैलाने से लोगों को रोकने की अपील की है।

%d bloggers like this: