शेखपुरा

ई का हो गया!! रेलवे के सबसे बड़े अधिकारी थे सवार और बीच गांव में रेल का इंजन हो गया फेल..

शेखपुरा।

क्यूल-गया रेलवे ट्रैक के विद्युतीकरण का निरीक्षण करने आए भारत के रेलवे विभाग सेफ्टी कमिश्नर ए के आचार्य के सैलून रेल का इंजन फेल कर गया। बुधवार को क्यूल से चलकर वे वारसलीगंज जा रहे थे। इसी बीच सिरारी से पहले उनके रेलवे सैलून के इंजन का फेल हो जाना विभाग में हलचल मचा दी।

अधिकारियों में हड़कंप, गिरेगी गाज

सैलून रेल इंजन का फेल होने से विभागीय अधिकारियों में हड़कंप मच गया। इसको लेकर निलंबन की कार्यवाई तय मानी जा रही है।

वही एक घंटे से अधिक समय तक सेफ्टी कमिश्नर इंजन फेल होने की वजह से कछौना गांव के बीच फंसे हुए हैं।

बताया जाता है कि क्यूल-गया रेलखंड के विद्युतीकरण का आज फाइनल टेस्टिंग था। इसी को लेकर सुबह में जहां क्यूल से वारसलीगंज तक और वारसलीगंज से क्यूल तक इंजन चलाकर टेस्ट कर लिया गया और फाइनल टेस्टिंग के लिए सेफ्टी कमिश्नर ए के आचार्य निकले तथा शेखपुरा पहुंचने से पहले ही बीच गांव में रेल का इंजन फेल हो जाने से फंस गए।

वहीं शेखपुरा रेलवे स्टेशन पर अधिकारी इंतजार करते रहे और यह खबर सुनकर उनके बीच हड़कंप मच गई। उनके साथ डीआरएम से लेकर विभाग से संबंधित बड़े बड़े अधिकारी भी मौजूद थे। हालांकि दूसरी इंजन की व्यवस्था कर उनके सैलून को लाने का उपाय भी किया जा रहा है। स्टेशन मास्टर ब्रजेश कुमार ने बताया कि तकनीकी खराबी से यह समस्या उत्पन्न हुई है। वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है।

%d bloggers like this: