बरबीघा

आंदोलन: सुखाड़ क्षेत्र घोषित करने, किसानों को दोगुना समर्थन मूल्य देने की मांग..

शेखपुरा।

जिला को सुखाड़ क्षेत्र घोषित करने की मांग को लेकर किसान सभा के द्वारा कलेक्ट्रेट के सामने जबरदस्त प्रदर्शन किया गया। किसानों की समस्याओं को लेकर प्रदर्शन कर रहे नेताओं ने जमकर नारेबाजी भी की।

इस अवसर पर सीपीआई के जिला सचिव प्रभात पांडे ने बताया कि शेखपुरा जिला में धान की फसल पूरी तरह से सूखा प्रभावित हो गई है और जिले को अभी तक सुखाड़ क्षेत्र घोषित नहीं किया गया है जिससे किसानों को भारी परेशानी है।

डीजल अनुदान गरीब को नहीं

उन्होंने कहा कि डीजल अनुदान लेने के लिए गरीब किसानों को भारी मशक्कत करनी पड़ती है और इसकी प्रक्रिया इतना पेचीदा है कि गरीब किसान इसमें परेशान होकर डीजल अनुदान नहीं लेना चाह रहे और अधिकारी तथा कर्मचारी मनमानी करते हुए डीजल अनुदान दे रहे हैं।

सभी नलकूप है बंद, अधिकारी को करें सस्पेंड

प्रभात पांडे ने बताया कि शेखपुरा जिले में 177 राजकीय नलकूप है और ज्यादातर बंद पड़े हुए हैं परंतु यहां के अधिकारी 70 से अधिक नलकूप को चालू बताता है जो कि किसानों से एक धोखा है। जमीन पर जांच करने पर 20- 25 नलकूप ही किसी तरह से चल रहा ऐसे लापरवाह अधिकारियों को तुरंत निलंबित किया जाना चाहिए।

समर्थन मूल्य दोगुना देने की मांग

साथ ही साथ उन्होंने कहा कि आज के प्रदर्शन में किसानों को लागत मूल्य से दोगुना समर्थन मूल्य देने का भी मांग की गई है। इस अवसर पर सीपीआई से जुड़े धर्मराज कुमार सहित अन्य लोग मौजूद थे।

%d bloggers like this: