शेखपुरा

दुग्ध उत्पादन, मत्स्य पालन में युवाओं को मिलेगा रोजगार। सचिव एन विजयालक्ष्मी ने दिया निर्देश

शेखपुरा।

जिला के प्रभारी सचिव सह पशुपालन व मत्स्य संसाधन विभाग के प्रधान सचिव एन विजयलक्ष्मी ने जिले में पशुपालन, मछली पालन, मुरगी पालन, दुग्ध उत्पादन आदि को बढ़ावा देने के लिए प्रयास का निर्देश दिया है। इसके माध्यम से युवाओं किसानों और बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए प्रयास करने का भी निर्देश दिया।

शेखपुरा लखीसराय जिले का हुआ संयुक्त समीक्षा।

सचिव शेखपुरा और लखीसराय जिला प्रशासन के विकास कार्यो की समीक्षा कर रहे थे जिसका आयोजन नगर परिषद के सभागर मे किया गया था। समीक्षा बैठक में शेखपुरा के जिलाधिकारी योगेन्द्र सिंह डीडीसी निरंजन कुमार झा, लखीसराय के जिलाधिकारी शोभेन्द्र चौधरी, डीडीसी विनय कुमार सहित दोनों जिला के आलाधिकारी और विभिन्न विभागो के पदाधिकारी, अभियंता आदि मौजूद थे।

सात निश्चय की सफलता पर जोर

सरकार के सात निश्चय के तहत चलाये जाने वाले विकास कार्य, ओडीएफ, प्रधान मंत्री आवास आदि की समीक्षा के दौरान इसे शत प्रतिशत सफल करने का निर्देश दिया।

बैठक में दोनों जिला प्रशासन ने बाढ़ की तैयारी के सम्बन्ध में नाव, नाविक सहित अन्य आवश्यक उपाय पूरा कर लेने की जानकारी दी।

बनेगा मछली उत्पादन का हब

पशुपालन व मत्स्य संसाधन विभाग के महासचिव एन बिजया लक्ष्मी ने कहा की अब बिहार मछली उत्पादन का हब बनेगा और आन्ध्र प्रदेश को पीछे छोड़ेगा।

बैठक में पटना और बरौनी से आये पटना डेयरी के पदाधिकारी सुधीर कुमार और एसआर मिश्रा ने बताया कि जिले के 212 गांवों में दुग्ध संग्रह करने के लिए दुग्ध सहकारी समिति का गठित है। जिले में इसमें से 126 समिति में प्रतिदिन बारह हजार लीटर दूध का संग्रह हो रहा है।

%d bloggers like this: