बरबीघा

निगरानी ने दबोचा! इंजीनियर को जेल! मिस्त्री के घर में किराएदार रहकर करवाते थे उगाही..

बरबीघा।

बरबीघा बिजली विभाग के जेई रामाश्रय राम और बिजली मिस्त्री अजय कुमार उर्फ पिंटू को निगरानी विभाग की टीम ने गुरुवार को घूस लेते हुए रंगे हाथ पकड़ लिया। ये अभिमन्यु कुमार से नया बिजली कनेक्शन देने के नाम पर ₹20000 की वसूली कर रहे थे।

दोनों अभियुक्त को निगरानी विभाग की टीम ने जेल भेज दिया। इसकी जानकारी देते हुए सब इंस्पेक्टर संजीव कुमार ने बताया कि गिरफ्तार किए गए दोनों अभियुक्तों को कानूनी कार्रवाई करते हुए जेल भेज दिया गया।

मिस्त्री के यहां रहते थे किराएदार

गिरफ्तार किए गए रामाश्रय राम बिजली मिस्त्री अजय कुमार उर्फ पिंटू के घर पर किराएदार के रूप में रहते थे। व्यवसायियों के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार किराएदार होने का लाभ उठाते हुए बिजली मिस्त्री के द्वारा दुकानदारों से भयादोहन किया जाता था तथा किसी भी बात पर केस में फंसाने की धमकी दी जाती थी और अवैध वसूली भी होती थी।

मोटी रकम नहीं देने वाले को यहां जेई के द्वारा बिजली मीटर चेक करने के नाम पर छापेमारी कर परेशान भी किया जाता था।

बिना पैसा बिजली विभाग में काम नहीं

बिजली विभाग की लापरवाही और मनमानी से व्यवसाइयों में भारी नाराजगी देखने को मिलती है। व्यवसाइयों की मानें तो बिजली विभाग के द्वारा नया कनेक्शन देने में भी नजराना लिया जाता है जबकि ट्रांसफार्मर के फ्यूज उड़ने अथवा किसी भी तरह का तार जोड़ने के नाम पर सरकार द्वारा चिन्हित बिजली मिस्त्री मोटी रकम वसूल करते हैं और नहीं देने पर बिजली को ठीक नहीं किया जाता

अधिकारी ही ठेकेदार

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बिजली विभाग के कई अधिकारी बिजली विभाग के कामों की ठेकेदारी अपने रिश्तेदारों के नाम पर करते हैं जिसकी वजह से समय पर काम भी पूर्ण नहीं किया जाता और गुणवत्ता का भी ख्याल नहीं रखा जाता।

%d bloggers like this: